भारत के समुद्री पक्षी - एक अवलोकन

Raju, Aju K and Sreekumar, K M and Joshi, K K (2021) भारत के समुद्री पक्षी - एक अवलोकन. मत्स्यगंधा : भा कृ अनु प - केंद्रीय समुद्री मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थान की अर्थ वार्षिक राजभाषा गृह पत्रिका Matsyagandha, 8. pp. 15-18.

[img]
Preview
Text
Matsyagandha_8_Aju K R_2021.pdf

Download (536kB) | Preview
Official URL: http://eprints.cmfri.org.in/15401/
Related URLs:

    Abstract

    समुदी पक्षी कशेरुकियों का सबसे सफल ग्रुप है और विकास के समय इन् हें विविध प्रकार का अनुकूलन प्राप्त हुए, जिन से जल, भूमि और वायु में जीवित रहने की सुविधा मिली। वैश्विक तौर पर समुद्री पर्यावरण के स्वास्थ्य के विश्व सनीय संकेतक के रूप में पहचाने जाते हैं। इनमें से कई अपने जीवन का एक बड़ा हिस्सा विशष रूप से उच्च महासागरों में बि ताते हैं, जबकि उनके प्रजनन के लिए दूरस्थ महासागरीय द्वीपों का लाभ उठाते हैं। कुछ पक्षी तटीय समुद्र में पाए जाते हैं और कि सी भी समय खुले समुद्र की ओर जाने का साहस नहीं करते हैं।

    Item Type: Article
    Subjects: Marine Birds
    Divisions: CMFRI-Kochi > Biodiversity
    Subject Area > CMFRI > CMFRI-Kochi > Biodiversity
    CMFRI-Kochi > Biodiversity
    Subject Area > CMFRI-Kochi > Biodiversity
    Depositing User: Mr. Prashanth P K
    Date Deposited: 12 Oct 2021 08:09
    Last Modified: 12 Oct 2021 09:56
    URI: http://eprints.cmfri.org.in/id/eprint/15403

    Actions (login required)

    View Item View Item