मत्स्य पालन: बिहारवासियों की सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुदृढ़ता का विकल्प

Bharti, Vivekanand (2020) मत्स्य पालन: बिहारवासियों की सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुदृढ़ता का विकल्प. In: भा कृ अनु प - केंद्रीय समुद्री मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थान की अर्थ वार्षिक राजभाषा गृह पत्रिका Matsyagandha. ICAR-Central Marine Fisheries Research Institute, Kochi, pp. 26-34.

[img]
Preview
Text
Vivekandh Bharati_Matsyagandha Vol.7-5.pdf

Download (417kB) | Preview
Official URL: http://eprints.cmfri.org.in/15040/
Related URLs:

    Abstract

    भौगोलिक क्षेत्रफल की दृष्टि से बिह ार भारत का 13वाँ सबसे बड़ा राज्य है और यह भारत के क्षेत्रफल का केवल 2.86% है। बिह ार को भौतिक और संरचनात्मक स्थितियों के आधार पर तीन भागों में वि भाजि त कि या जा सकता है अर्था त् शि वालिक क्षेत्र (रामनगर दनू , सोमेश्वर की पहाड़ी और हरहा घाटी); मैदानी क्षेत्र (उत्तरी पर्वत और दक्षि णी पठार के मध्य का भाग) और दक्षि णी पठारी क्षेत्र (पश्चिम में कैमूर जिल ा से पूर्व में बाँका जिल ा का स्थल )।

    Item Type: Book Section
    Subjects: Aquaculture > Mariculture
    Divisions: CMFRI-Kochi > Mariculture
    Subject Area > CMFRI > CMFRI-Kochi > Mariculture
    CMFRI-Kochi > Mariculture
    Subject Area > CMFRI-Kochi > Mariculture

    CMFRI-Kochi > Hindi Cell
    Subject Area > CMFRI > CMFRI-Kochi > Hindi Cell
    CMFRI-Kochi > Hindi Cell
    Subject Area > CMFRI-Kochi > Hindi Cell
    Depositing User: Mr. Prashanth P K
    Date Deposited: 09 Apr 2021 09:19
    Last Modified: 09 Apr 2021 09:19
    URI: http://eprints.cmfri.org.in/id/eprint/15078

    Actions (login required)

    View Item View Item